स्कूल, आश्रम और छात्रावासों में बच्चों के शिक्षा की हो समुचित व्यवस्था: मंत्री अमरजीत भगत

 
pic

रायपुर :  खाद्य, संस्कृति मंत्री तथा गरियाबंद जिले के प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय काम-काज की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि स्कूल, आश्रम और छात्रावासों में बच्चों के शिक्षा संबंधी पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित हो, यदि छत, खिड़की की मरम्मत की आवश्यकता हो तो तत्काल उसे पूर्ण करें। यहां पेयजल, शौचालय और स्वच्छता का भी ध्यान रखा जाए।


बैठक में खाद्य मंत्री भगत ने कहा कि राशन वितरण संबंधी कोई शिकायत मिलती है तो उस पर तत्काल कार्यवाही करें। गरीबों के हक का राशन उन्हें सही मात्रा और उचित कीमत पर मिलना सुनिश्चित हो। खाद्य अधिकारी ने विभिन्न शिकायतों पर की गई कार्यवाही से उन्हें अवगत कराया। मंत्री भगत ने जिला पंचायत सदस्य लक्ष्मी साहू के सुझाव पर ग्राम बिरोडार में उचित मूल्य के दुकान खोलने की सहमति दी। उन्होंने कहा कि धुरूवागुड़ी हायर सेकेण्डरी स्कूल निर्माण की स्वीकृति हो गई है जिसका निर्माण कार्य तत्काल प्रारंभ करने के निर्देश दिये। आश्रम और छात्रावासों में अन्य स्कूलों से अधीक्षक के रूप में संलग्न शिक्षकों को तत्काल मूल शाला अथवा एकल शिक्षकीय शाला में पदस्थ करने तथा आश्रम छात्रावास के बच्चे जिसे स्कूल में पढ़ते हो वहां के वरिष्ठतम शिक्षकों को प्रभार देने के निर्देश दिये गए।


मंत्री ने बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी एवं सहायक आयुक्त को स्कूलों का नियमित निरीक्षण करने को कहा। उन्हांेने कहा कि स्वास्थ्य केन्द्रों में भी पर्याप्त बेड, लाईट, पानी, शौचालय आदि की समुचित व्यवस्था हो। नदी किनारे खेतो में भी विद्युत पंप, सोलर पंप स्वीकृत करने के निर्देश दिये गए ताकि दो फसल लिया जा सके। मंत्री  भगत ने बाढ़ आपदा प्रबंधन के लिए आवश्यक तैयारी सहित प्रभावित क्षेत्रों में गोताखोर और ऐहतियाती कदम उठाने के निर्देश दिये। बैठक में राजिम विधायक अमितेश शुक्ल, जिला पंचायत अध्यक्ष स्मृति ठाकुर, कलेक्टर  प्रभात मलिक, पुलिस अधीक्षक  जे.आर ठाकुर सहित जनपद अध्यक्ष फिंगेश्वर  पुष्पा साहू, जिला पंचायत सदस्य लक्ष्मी साहू,  भावसिंग साहू, जनक ध्रुव, जिला पंचायत सीईओ  रोक्तिमा यादव, वनमण्डलाधिकारी मयंक अग्रवाल उपस्थित थे।

From Around the web