कड़ी मेहनत का कोई विकल्प नहीं: डॉ. अलंग

 
pic

बिलासपुर :  बिलासपुर संभाग के कमिश्नर डॉ. संजय अलंग एवं कलेक्टर  सौरभ कुमार ने आज मंथन सभाकक्ष में बिलासपुर संभाग के प्रतिभाशाली छात्रों को चेक एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। डॉ. अलंग ने बच्चों का हौसला बढ़ाते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा कि कड़ी मेहनत का कोई विकल्प नहीं होता है। मजबूत इच्छा शक्ति और धैर्य के साथ बड़ी से बड़ी बाधा पार की जा सकती है। इस कार्यक्रम का आयोजन जिला प्रशासन के सहयोग से ह्यूमन्स केयर एंड डेवलपमेंट काउंसिल द्वारा किया गया।


पी.एस.वाय 2021-22 राष्ट्रीय मुख्य प्रतियोगिता परीक्षा में तीन विधाओं मंे संभाग के 41 छात्रों ने मेरिट में स्थान प्राप्त किया है। गौरतलब है कि अक्टूूबर माह में आयोजित राष्ट्रीय परीक्षा के निबंध, शोध एवं मुख्य परीक्षा में इन बच्चों ने अपनी सहभागिता दर्ज की थी। जिन बच्चों को सम्मानित किया गया, उनमें सुजैन खान, काव्यांजलि पाण्डेय, गीतांजलि सिन्हा, पीयूष दुबे, आराधना पाल, प्रेरणा सिंह, मलय सिंह, अंजना विश्वकर्मा, मुस्कान रानी कंवर, समीर सिंह, श्रेया रात्रे, भूमिका साहू, तनु केशरवानी, तुलसी सारस्वत, भावना साहू, नरगिस परवीन, ऋद्धि पटेल ने मुख्य परीक्षा एवं चित्रकला सहित शोध प्रतियोगिता में जिला स्तरीय सम्मान एवं चेक प्राप्त किया। ये सभी छात्र पी.एस.वाय के दूसरे चरण के परीक्षा के लिए चयनित है एवं राज्य स्तरीय परीक्षा में भाग लेंगे। ये बच्चे स्वामी आत्मानंद हायर सेकेण्डरी बिलासपुर, सेंट जेवियर स्कूल व्यापार विहार, जैन इंटरनेशनल स्कूल बिलासपुर, सेंट माइकल स्कूल रायगढ़, कार्मल कान्वेंट स्कूल रायगढ़ एवं डीएव्ही स्कूल कोरबा, डीपीएस सीनियर सेकेण्डरी स्कूल कोरबा, गुरूकूल हायर सेकेण्डरी स्कूल बिलासपुर, जागृति हायर सेकेण्डरी स्कूल बिलासपुर, ड्रीमलेंड स्कूल बिलासपुर में अध्ययनरत है।


कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन हयूमन्स केयर एंड डेवलपमेंट काउंसिल की समन्वयक  शुभ्रा शुक्ला ने किया। इस अवसर पर संयुक्त संचालक लोक शिक्षा बिलासपुर के उप संचालक  एस.के प्रसाद एवं जिला शिक्षा अधिकारी डी.के. कौशिक सहित अन्य लोग मौजूद थे।

From Around the web