सरकार तुहर द्वार कार्यक्रम से जिलेवासी हो रहे लाभान्वित : राजस्व मंत्री अग्रवाल

 
pic

कोरबा :  जिला प्रशासन एवं नगर पालिक निगम कोरबा द्वारा दर्री जोन के वार्ड क्र. 43 से वार्ड क्र. 53 एवं 55 तक के लिए शासकीय हाई स्कूल दर्री में आज सरकार तुहर द्वार कार्यक्रम के तहत वृहद समाधान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में दो हजार 881 लोग राशन, पेंशन, छात्रवृत्ति, सामाजिक सुरक्षा लाभांश, राजस्व प्रकरणों, फौती, नामांन्तरण आदि सुविधाओं से लाभान्वित हुए। राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री  जयसिंह अग्रवाल ने मुख्य अतिथि के रूप में शिविर का उद्घाटन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता महापौर  राजकिशोर प्रसाद के द्वारा की गई। कार्यक्रम के दौरान राजस्व मंत्री  अग्रवाल ने आज कहा कि नागरिक लाभान्वित हो रहे हैं, घर बैठे उनकी विभिन्न समस्याओं का निराकरण व आवश्यकताओं की पूर्ति हो रही है, अब उन्हें अपने कार्याे हेतु विभिन्न कार्यालयों का चक्कर नहीं लगाना पड़ रहा, अधिकारी कर्मचारी खुद उनके घर पहुंचकर उनकी समस्याएं दूर कर रहे हैं। उन्होने कहा कि निश्चित रूप से यह योजना एक अत्यंत सफल योजना है, आम आदमी को इसका सीधा व त्वरित लाभ मिल रहा है। राजस्व मंत्री अग्रवाल ने आगे कहा कि नगर निगम कोरबा क्षेत्र का यह तीसरा शिविर है, इसके पूर्व में आयोजित 02 शिविरों में कई हजार समस्याओं का निराकरण वास्तविक रूप से किया गया है, वहीं निर्माण संबंधी मांगों पर प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। उन्होने आगे कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने किसान, मजदूर, गरीब, निर्धन, बेसहारा, बुजुर्ग, युवा, बच्चों सभी के लिए योजनाएं बनाई हैं, उन्हें क्रियान्वित किया है, जिससे प्रदेश की दशा व दिशा बदली है। इस दौरान कलेक्टर  रानू साहू, सभापति  श्यामसुंदर सोनी, आयुक्त  प्रभाकर पाण्डेय, एस.डी.एम.कटघोरा  कौशलप्रसाद तेंदुलकर, जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.बी.बी.बोडे, जनप्रतिनिधि सुरेन्द्रप्रताप जायसवाल सहित निगम के एम.आई.सी.के सदस्यगण, वार्डाे के पार्षदगण एवं एल्डरमेनगण मौजूद रहे।

  महापौर  राजकिशोर प्रसाद ने कहा कि निगम क्षेत्र में सरकार तुहर द्वार योजना के तहत आयोजित किए जा रहे शिविर अत्यंत सार्थक साबित हो रहे हैं, लोगों की समस्याएं दूर  हो रही हैं, उनकी शिकायतें खत्म हो रही है। उन्होने कहा कि नगर पालिक निगम कोरबा एवं जिले के सभी विभागों के द्वारा आपसी समन्वय बनाकर लोगों की समस्याओं को गंभीरता से लिया जाकर उनका निराकरण त्वरित रूप से किया जा रहा है। कलेक्टर रानू साहू ने अपने उद्बोधन में कहा कि  सरकार तुहर द्वार कार्यक्रम के तहत सर्वप्रथम ग्रामीण क्षेत्रों में वृहद समाधान शिविर लगाए गए व कार्यक्रम संचालित किए गए, अब इसके साथ ही शहरी क्षेत्रों में भी सरकार तुहर द्वार कार्यक्रम चलाया जा रहा है, जिसका अच्छा प्रतिसाद प्राप्त हो रहा है। नागरिकों का बहुत ही अच्छा सहयोग इस कार्यक्रम को मिल रहा है। उन्होने कहा कि नागरिकों को पेंशन, राशन कार्ड सहित अपनी छोटी-बड़ी समस्याओं के लिए कार्यालयों का चक्कर न लगाना पडे़, उनके घर पहुंचकर ही इनका समाधान कर दिया जाए, यही इस कार्यक्रम का प्रमुख उद्देश्य है। उन्होने कहा कि राशन कार्ड,पेंशन, जाति, निवास व जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र, नल कनेक्शन, अतिक्रमण, वन अधिकार पत्र, अभिलेख दुरूस्ती, राशन कार्ड में नाम जोडने व काटने, नोनी सुरक्षा योजना, नया आयुष्मान कार्ड, ड्रायविंग लाईसेंस, दिव्यांगता प्रमाण पत्र, बिजली बिल सुधार सहित अन्य विषयों से संबंधित समस्याएं लोगों के घर पहुंचकर दूर की जा रही है। उन्होने कहा कि कोरबा जिला देश का पहला जिला है, जहॉं ड्रायविंग लाईसेंस परिवहन कार्यालय से बाहर शिविर में बनाया जा रहा है, इन शिविरों में लोगों की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं की जांच एवं इलाज भी किया जा रहा है।


समस्याओं का हुआ निराकरण, 2881 लोग लाभान्वित, - निगम क्षेत्र के दर्री वार्ड क्र. 43 से 53 एवं 55 तक के लिए आयोजित किए गए आज के वृहद समाधान शिविर से पूर्व ही विभिन्न समस्याओं, शिकायतों व मांगों से संबंधित 2881 आवेदनों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण विभिन्न विभागों के माध्यम से कराया गया। नगर पालिक निगम केारबा के 1763, राजस्व विभाग के 196, खाद्य विभाग के 524, महिला एवं बाल विकास विभाग के 91, पुलिस विभाग के 12, स्वास्थ्य विभाग के 11, क्रेडा के 05, पशुधन विभाग से 01, श्रम विभाग के 07, मछलीपालन विभाग के 01, कृषि विभाग के 11, विद्युत वितरण कम्पनी के 138, शिक्षा विभाग के 17, समाज कल्याण विभाग के 19, आदिवासी विकास विभाग के 34, सहकारिता विभाग के 16, वन विभाग के 04 एवं आबकारी विभाग के 31 आवेदनों का निराकरण करते हुए हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया।


हितग्राहियों को किया गया सामग्रियों का वितरण - वृहद समाधान शिविर के दौरान राजस्व मंत्री   जयसिंह अग्रवाल के द्वारा विभिन्न विभागों के हितग्राहियों को सामग्रियों का वितरण किया गया। इस दौरान नगर पालिक निगम कोरबा के 15 राशन कार्ड, समाज कल्याण विभाग से रालेटर 02, व्हीलचेयर 04, एम.आर.किट 03, ट्रायसिकल 07, बैसाखी 01, श्रवण यंत्र 02, मछलीपालन विभाग से आईस बॉक्स 01 व श्रम विभाग से श्रमिक कार्डाे का वितरण हितग्राहियों को किया गया।


शिविर में विभिन्न विभागों ने लगाए थे स्टाल - शिविर में नगर पालिक निगम कोरबा, खाद्य विभाग, श्रम विभाग, समाज कल्याण विभाग, राजस्व विभाग, विद्युत विभाग, क्रेडा, स्वास्थ्य विभाग, महिला बाल विकास, कौशल विकास, पुलिस, आबकारी, वन, शिक्षा, सहकारिता, पी.एच.ई., कृषि, पशुधन, मछली पालन, उद्यान, जिला योजना  सांख्यिकी, जिला अत्यावसायी विभाग के काउंटर विभिन्न कक्षों में लगाए गए थे तथा संबंधित अधिकारी कर्मचारियों की तैनाती की गई थी, जहॉं पर आवेदकों हितग्राहियों केा उनके द्वारा दिए गए आवेदनों पर निराकरण संबंधी जानकारी दी जा रही थी।

From Around the web