ग्राम तुड़गे निवासी मोतीराम को मिला कृत्रिम पैर

 
pic

उत्तर बस्तर कांकेर :  प्रदेश के मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के भानुप्रतापपुर में आयोजित भेट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान ग्राम तुड़के निवासी मोतीराम ने दिव्यांग होने की समस्या बताते हुए कृत्रिम पैर उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री से निवेदन किया था। मुख्यमंत्री के निर्देश का त्वरित पालन करते हुए जिला प्रशासन द्वारा मोतीराम को कृत्रिम पैर लगा दिया गया है, जिससे अब वे बिना बैसाखी के चल सकते हैं।


      कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला के निर्देश पर समाज कल्याण विभाग के उप संचालक द्वारा ग्राम तुड़गे पहुंचकर मोतीराम को कृत्रिम पैर लगवाने के लिए फिजिकल रैफरल रिहैबिलिटेशन सेंटर माना रायपुर भेजा गया, वहां उनके पैर का नाप लिया गया था। एक महीने के बाद मोतीराम को पुनः फिजिकल रैफरल रिहैबिलिटेशन सेंटर माना कैम्प रायपुर भेजा गया, जहाँ उनका कृत्रिम पैर लगाया गया, अब मोतीराम बिना बैसाखी के चल सकते हैं। कृत्रिम पैर लगने पर उन्होंने खुश होते हुए बताया कि उनका एक पैर एक्सीडेंट में कट गया था, जिससे उन्हें चलने-फिरने में बहुत परेशानी होती थी। कृत्रिम पैर लगने से अब उन्हें आने-जाने में बैसाखी का सहारा नहीं लेना पड़ेगा और न ही कोई परेशानी होगी। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल तथा जिला प्रशासन के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है।

From Around the web