कोरिया जिले में 21 हज़ार से ज्यादा परिवारों को मिला है प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत पक्का आशियाना

 
pic

कोरिया :  प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत जिले में 21 हजार से ज्यादा परिवारों को पक्का आशियाना मिला है। 2017 से 2020 तक की अवधि में विकासखण्ड बैकुण्ठपुर के 3427, विकासखण्ड भरतपुर के 6179, विकासखण्ड खड़गवां के 3753, विकासखण्ड मनेन्द्रगढ़ के 4169, विकासखण्ड सोनहत के 3948 आवास निर्माण कार्य पूर्ण किए गए हैं एवं प्रगतिरत निर्माण कार्यों के पूर्ण होते ही जियो टैगिंग की कार्यवाही की जाएगी।


योजना के जिला समन्वयक ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि योजना के तहत जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करने वाली आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों को पक्के घर निर्माण एवं मरम्मत कार्य के लिए आर्थिक मदद दी जा रही है, हितग्राहियों को योजना के तहत किस्तों के माध्यम से राशि प्रदान की जाती है। जिले में वर्ष 2016-17 में समस्त विकासखंडों में कुल 9634 एवं वर्ष 2017-18 में 3476 आवासों के निर्माण कार्य पूर्ण किए गए हैं। वर्ष 2018-19 में योजनांतर्गत 6804  तथा 2019-20 में 1562 परिवारों के पक्के आवास का सपना पूरा हुआ है, वहीं वर्ष 2020-21 में 7 हजार हितग्राहियों को स्वीकृति प्रदान की गई है।

’शशिकला, शिवकुमार तथा कुसुम के सपने हुए पूरे, कच्ची छतों और दीवारों से मिला छुटकारा, परिवार हुआ सुखमय’
जनपद पंचायत बैकुण्ठपुर के ग्राम पंचायत सलबा की शशिकला टोप्पो ने बताया कि वर्ष 2018-19 में योजना के तहत स्वीकृति मिली, लंबे समय से पक्का घर बनाने का मेरा सपना था, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के बारे में जानकारी मिलते ही मैंने आवेदन किया और आज मैं अपने परिवार के साथ पक्के मकान से सुखमय जीवन व्यतीत कर रही हूं।


जनपद पंचायत सोनहत के ग्राम कैलाशपुर के शिवकुमार ने बताया कि पत्नी तथा बच्चों सहित चार सदस्यीय परिवार में सर्दी, बारिश के मौसम में कच्चे मकान में रहना मुश्किल था। योजना के तहत मुझे वर्ष 2016-17 में स्वीकृति मिली और पक्का मकान बन जाने से पूरा परिवार बहुत खुश है। इसी प्रकार प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत ग्राम बोड़ार की कुसुम बाई को भी पक्के मकान का आशियाना मिला है।

From Around the web