बेवा सुनैना की हुई तत्काल सुनवाई, घण्टेभर में बना राशनकार्ड

 
pic

जांजगीर-चांपा :  कलेक्टर  जितेन्द्र कुमार शुक्ला के पहल के पश्चात जांजगीर-चांपा जिले के कलेक्ट्रेट में प्रतिदिन प्रारंभ हुए जनसमस्या निवारण शिविर का लाभ अब जिले के आम नागरिकों को मिलने लगा है। लोग आसानी से अपना आवेदन शिविर में आकर अधिकारियों को दे रहे हैं। लोगों से प्राप्त आवेदन की गंभीरता और स्थिति को देखते हुए तत्काल निराकरण की कार्यवाही भी सुनिश्चित की जा रही है। ऐसा ही एक आवेदन आज गुम हुए राशनकार्ड के बदले नए राशनकार्ड बनाने के लिए आया। अधिकारियों ने इस आवेदन का तत्काल निराकरण करते हुए बेवा सुनैना के नाम से नया राशनकार्ड जारी करते हुए घण्टे भर के भीतर उनकी बेटी मनीषा के हाथ में कार्ड सौंप दिया।


   जांजगीर-चांपा जिले में प्रदेश का संभवतः ऐसा पहला कलेक्ट्रेट  होगा, जहां आम नागरिकों की समस्याओं को सुलझाने प्रतिदिन अलग से जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया जाता है। कलेक्टर जितेन्द्र कुमार शुक्ला की इस नई पहल का लाभ जिलेवासी उठाने लगे हैं। नवागढ़ ब्लाक के ग्राम सुकली   निवासी बेवा  सुनैना चंदेल का राशनकार्ड विगत 15-20 दिन पूर्व कहीं खो गया था। वह हर माह इस कार्ड से 5 सदस्यों के नाम पर खाद्यान्न लेती है। कार्ड गुम होने से चिंता में डूबी सुनैना चंदेल को जब मालूम हुआ कि कलेक्ट्रेट में कलेक्टर द्वारा प्रतिदिन जनसमस्या शिविर लगाकर लोगों की समस्याओं का समाधान किया जा रहा है तो उन्होंने आवेदन के साथ अपनी बेटी मनीषा को कलेक्ट्रेट भेजा। आज उनकी बेटी मनीषा ने जैसे ही शिविर में अधिकारियों को अपना आवेदन दिया, कलेक्टर के निर्देश पर महज एक घण्टे के भीतर उन्हें नया राशन कार्ड डिप्टी कलेक्टर सुमीत गर्ग ने हाथों में दे दिया। बीएससी की पढ़ाई कर रही मनीषा को यकीन नहीं हो रहा था कि वह जिस काम को बहुत पेचीदा और समय लगने वाला सोच रही थी, वह तत्काल पूरी हो जाएगी। मनीषा ने कलेक्टर  शुक्ला द्वारा जनसमस्या शिविर कलेक्टेªट में लगाए जाने की खुलकर प्रशंसा करते हुए कहा कि यह सब पहली बार देखने सुनने को मिल रहा है। ग्रामीण लक्ष्मीनारायण ने कहा कि कलेक्टर का जिलेवासियों के प्रति जो लगाव है वह जिले में उनके कार्यों से मालूम होता है। कलेक्ट्रेट में जनसमस्या निवारण शिविर एक बहुत ही शानदार व्यवस्था है। इसका लाभ जरूरतमंदों को जरूर उठाया जाना चाहिए। उल्लेखनीय है कि कलेक्ट्रेट परिसर में जनसमस्या निवारण शिविर की शुरुआत 1 जून से प्रारंभ की गई है। हाल ही में प्रभारी सचिव ने भी इस पहल की सराहना की थी। कलेक्टर  शुक्ला के अलावा जिला पंचायत सीईओ गजेन्द्र सिंह ठाकुर, अपर कलेक्टर  राहुल देव भी आम नागरिकों की समस्याओं को सुनने का प्रयास करते हैं।

From Around the web