घेवर से आधार कार्ड और बाँसुरी तक, भारतीयों ने ऊबर में क्या-क्या छोड़ा

 
pic

गुड़गांव : आज ऊबर ने अपने लॉस्ट एंड फाउंड इंडैक्स का 2022 संस्करण जारी किया, जिसमें सबसे ज्यादा भूलने वाले सामानों, सबसे ज्यादा भूलने वाले शहरों, और हफ्ते के उन दिनों और साल के उस समय का विवरण है, जब ऊबर राईडर्स सामान सबसे ज्यादा भूलते हैं।

देश में सबसे ज्यादा भूलने वाले शहर की उपाधि लगातार दूसरे साल मुंबई को मिली, लेकिन दिल्ली एनसीआर और लखनऊ भी इसमें पीछे नहीं। राईडर्स की जानकारी और कई गीगाबाईट डेटा के आधार पर लॉस्ट एंड फाउंड इंडैक्स का उद्देश्य राईडर्स की ट्रिप के दौरान ऊबर कैब में कोई चीज़ भूल जाने पर उन्हें मनोरंजक और जानकारीवर्धक तरीके से एक बटन के टैप पर उपलब्ध ऊबर के इन-ऐप विकल्पों की जानकारी प्रदान करना है।

पिछले साल, फोन, स्पीकर/हेडफोन, वॉलेट और बैग आदि भारत में ऊबर कैब में भूले जाने वाले सामानों में शामिल हैं। उनके अलावा राईडर्स ग्रोसरी, थर्मस/पानी की बोतल और फोन चार्जर भी कैब में भूल गए। सामान्य सामान भूलने के अलावा, भारतीय कुछ अनोखे सामान, जैसे घेवर (भारतीय मिठाई), बाँसुरी, आधार कार्ड, डंबल, बाईक का हैंडल, क्रिकेट बैट, स्पाईक गार्ड, और कॉलेज के सर्टिफिकेट आदि भी भूलकर कैब में छोड़ गए।

इस इंडेक्स के बारे में नीतिश भूषण, डायरेक्टर, सेंट्रल ऑपरेशंस ने कहा, ‘‘सामान भूल जाने पर बहुत तनाव हो जाता है, लेकिन जब आप ऊबर से सफर करते हैं, तो आपके पास हमेशा अपने सामान का पता लगाने का तरीका होता है, ताकि आप अपना सामान वापस पा सकें। यह वार्षिक सर्वे राईडर्स को यह याद दिलाने का एक दिलचस्प और जानकारीवर्धक तरीका है कि वो ऐप में खोया सामान वापस करने का निवेदन कर अपना खोया हुआ सामान कैसे फिर से प्राप्त कर सकते हैं।’’

From Around the web