किसान सूरजभान को दलहन एवं तिलहन की खेती से एक वर्ष में 72000 रुपए की हुई आमदनी

 
pic

जशपुरनगर :  किसानों को आर्थिक रूप से संबल बनाने तथा नई फसल लेने हेतु कृषि विभाग के द्वारा निरंतर विभिन्न प्रशिक्षण एवं कार्यशाला का आयोजन कर किसानो को आधुनिक खेती से जोड़ा जा रहा है। जिससे किसान की फलस में बढ़ोतरी हो सके और वे अपने आमदनी को दोगुनी कर सके। कृषि विभाग के विभिन्न प्रयासों से लाभांवित दुलदुला विकासखंड के ग्राम ढोढीआरा निवासी किसान सूरजनाथ सिंह ने प्रशिक्षण  एवं कृषि विभाग के सलाह से आधुनिक खेती कर 72 हजार रुपए की आमदनी अर्जित की। किसान सूरजनाथ सिंह ने कहा कि उनके  पास कुल 21.48 एकड़ जमीन है। गत वर्ष कृषि विभाग की केन्द्र प्रवर्तित बीज ग्राम योजना अंतर्गत उन्हें अरहर बीज 12 किलोग्राम प्रदाय किया गया था। जिसे वह 1.5 एकड़ मे अरहर एवं मूंगफली तथा 1 एकड़ में तिलहन 0.50 एकड़ में सब्जी की खेती की। उन्होंने बताया कि समय-समय पर उक्त फसल पर प्रशिक्षण के दौरान प्राप्त तरीकों से उन्होंने पोषक खाद एवं दवाई का छिड़काव किया। जिससे उनका फसल की उपज अधिक मात्रा में हुई।


उन्होंने ने बताया कि जब मैं पूर्व में परंपरागत विधि से खेती करते थे तो उन्हे मेहनत के अनुसार फसल की उपज नहीं मिल पाती थी। परंतु पशिक्षण के उपरांत उन्होंने आधुनिक तकनिकी का उपयोग कर खेती किया तो उन्हें 1 वर्ष में 6.00 क्विंटल अरहर, मूंगफली 4.00 क्विं. एवं तिल का उत्पादन 2.00 क्विं. प्राप्त हुआ। उन्होंने कहा कि उक्त फसल से उन्हें 72 हजार रुपये की आमदनी प्राप्त हुई। किसान सुरजनाथ ने कहा कि प्रशिक्षण के उपरांत जब खेती की उपज अच्छी आई तो वे अधिक प्रोत्साहित हुए। अब वे और ज्यादा उत्साह के साथ खेती करेंगे। उन्होंने बताया कि आगामी वर्ष से अधिक क्षेत्र में दलहन एवं तिलहन की खेती करेंगे। किसान सुरजनाथ ने कहा कि वे अपने आस पास के किसानों को भी अन्य फसल लेने के लिए प्रोत्साहित करेंगे। जिससे उन्हें भी आर्थिक रूप से अधिक आमदनी हो सके। साथ ही उन्होंने उक्त प्रशिक्षण के लिए जिला प्रशासन एवं कृषि विभाग के अधिकारियों को धन्यवाद दिया।  

From Around the web