कलेक्टर एवं एसपी ने बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में पहुंच व्यवस्थाओं का लिया जायजा

 
pic

कोण्डागांव :  कलेक्टर दीपक सोनी एवं पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल द्वारा बुधवार को लगातार 05 दिनों से हो रही मुसलाधार बारिश के चलते नदी, नालों में आये उफान से बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में पहुंच व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने नारंगी नदी पर स्थित सम्बलपुर-बम्हनी मार्ग, बनियागांव-सोनाबाल मार्ग एवं जोंधरापदर स्थित पुल पर नदी के पानी के आ जाने से उत्पन्न हुई बाढ़ की स्थिति का मौके पर पहुंच जायजा लिया गया। जहां उन्होंने उपस्थित अधिकारियों से चर्चा करते हुए 24 घण्टे सुरक्षाकर्मियों को नियुक्त कर राहत बचाव दल को भी अलर्ट मूड में रहने के निर्देश दिये। यहां किये गये बेरीकेटिंग एवं अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए उन्होंने बाढ़ग्रस्त ईलाकों में बच्चों की सुरक्षा एवं उनकी पढ़ाई में नुकसान न हो इसके लिए उन क्षेत्रों के स्कूलों को अवकाश देने को कहा। इस अवसर पर कलेक्टर के साथ संयुक्त कलेक्टर डीडी मण्डावी, एसडीएम चित्रकांत चार्ली ठाकुर, जनपद सीईओ भूपेन्द्र जोशी, तहसीलदार विजय मिश्रा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।


इसके अतिरिक्त सलना-ठेंगपारा मार्ग, पल्ली स्टॉप डैम, फरसगांव के बड़े ओड़ागांव से फुण्डेर मार्ग पर पुल-पुलिया पर नदी का पानी आने की स्थिति को देखते हुए इन सड़कों को दोनों ओर से बेरीकेटिंग कर ग्रामीण अधिकारियों को 24 घण्टे इनकी निगरानी करने के आदेश दिये गये हैं। इसके अतिरिक्त नारंगी नदी पर बम्हनी कुधूर पारा में सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए एहतियातन 07 परिवारों के 26 लोगों को प्राथमिक शाला बम्हनी में ठहराया गया है। इसके अलावा कुधूर शिरडी मार्ग, कड़ेनार बेचा मार्ग, तोतर से आदनार मार्ग पर सड़कों के अभाव में नदी में उफान की स्थिति के कारण आवाजाही अवरूद्ध हुई है। जिसपर जिला प्रशासन द्वारा निगरानी की जा रही है। वहीं रानापाल के कुसमा पारा मार्ग पर निरंतर स्थितियों पर अधिकारियों पर नजर रखी जा रही है। इसके अतिरिक्त अन्य ऐसे स्थान जहां जनधन की हानि संभावित है वहां पर कलेक्टर के निर्देश पर अधिकारियों द्वारा नजर रखते हुए सुरक्षा व्यवस्था के साथ राहत दलों को भी एक्टिव मूड में रखा गया है साथ ही ऐसे गांवों के सरपंच, सचिव, पंच, वार्ड पार्षद, पटवारी, कोटवार एवं ग्रामीण वरिष्ठजनों को गांव की सुरक्षा हेतु प्रशासन के साथ सहयोग एवं सूचना प्रदाय हेतु प्रेरित किया जा रहा है। बाढ़ नियंत्रण कक्ष स्थापित कर दूरभाष नम्बर 07786-242768 जारी किया गया है।

From Around the web