कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने किया अंतागढ़ विकासखण्ड के शासकीय संस्थाओं एवं कार्यालयों का आकस्मिक निरीक्षण

 
pic

उत्तर बस्तर कांकेर :  कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने आज अंतागढ़ तहसील के ग्राम पोड़गांव के गौठान, आंगनबाड़ी केन्द्र, आदर्श बालक आश्रम और हेल्थ एंड वेलनेंस सेंटर का औचक निरीक्षण किया। इसके अलावा एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय लामकन्हार अंतागढ़, स्टॉप डेम नयापारा हिमोड़ा, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी एवं हिन्दी माध्यम विद्यालय अंतागढ़, तहसील, जनपद एवं अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अंतागढ़ का औचक निरीक्षण किया गया तथा संस्थाओं में संचालित गतिविधियों, कार्यों एवं उपलब्ध संसाधनों की जानकारी ली एवं संबंधित विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।


        कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने पटेलपारा पोड़गांव के गौठान का निरीक्षण कर वहां संचालित गतिविधियों की जानकारी ली एवं महिला स्व-सहायता समूहों से चर्चा कर अच्छा कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया। गांव के पशुओं को इस गौठान में लाना सुनिश्चित करने के लिए जनपद सीईओ को निर्देश दिये गये। पटेलपारा के आंगनबाड़ी केन्द्र क्रमांक एक का भी कलेक्टर ने निरीक्षण किया तथा बच्चों को खेल-खेल में दी जा रही शिक्षा एवं पूरक पोषण आहार के संबंध में जानकारी ली। आदर्श बालक आश्रम पोड़गांव में निरीक्षण के दौरान उन्होंने कक्षा पहली, दूसरी एवं तीसरी के विद्यार्थियों को गिनती, पहाड़ा तथा अंग्रेजी वर्णमाला को पढ़कर सुनाने के लिए कहा तथा शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए संस्था प्रमुख को निर्देशित किया, साथ ही आश्रम परिसर में किचन गार्डन विकसित करने के निर्देश भी दिये। बालक आश्रम में उपलब्ध 08 सेट कम्प्यूटर का समुचित उपयोग नहीं किये जाने पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्होंने आश्रम के बच्चों को कम्प्यूटर की शिक्षा प्रदान करने के निर्देश दिये। हेल्थ एंड वेलनेंस सेंटर के निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य कर्मियों को गांव के सभी 30 वर्ष से अधिक आयु के सभी व्यक्तियों का एनसीडी स्क्रीनिंग करने और गर्भवती सभी 22 गर्भवती महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण सुनिश्चित करने के निर्देशित किया। परिसर को सुन्दर बनाने के लिए गार्डन विकसित करने हेतु जनपद सीईओ को निर्देश दिये गये।


          एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय लामकन्हार अंतागढ़ का भी कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला द्वारा निरीक्षण किया गया तथा कक्षा 11वीं एवं 12वीं के विद्यार्थियों को पढ़ाया। इस विद्यालय में 390 विद्यार्थी द्वारा दाखिला लिया गया है। उन्होंने विद्यार्थियों को कड़ी मेहनत करने की समझाईश देते हुए कहा कि ‘‘परिश्रम जादू की छड़ी है, जिससे सब कुछ हासिल किया जा सकता है।’’ नरवा विकास कार्यक्रम के तहत नयापारा हिमोड़ा नाला में वर्ष 2019-20 में स्टॉप डेम का भी निर्माण किया गया है, जिसका निरीक्षण कलेक्टर द्वारा किया गया तथा इसके निर्माण के बाद से भू-जल स्तर में क्या बदलाव आया है, इसका पता लगाने के लिए वन मण्डलाधिकारी जाधव श्रीकृष्ण को निर्देशित किया। स्टॉप डेम का निरीक्षण करने के बाद लौटते वक्त हिमोड़ा निवासी श्रीमती तनूजा नाग एवं सीमा नरेटी व शिबानी नरेटी ने कलेक्टर का स्वागत कर गांव में संचालित गतिविधियों की जानकारी दी। उन्होंने अपना राशन कार्ड अब तक नहीं बनने के संबंध में भी अवगत कराया, जिस पर त्वरित कार्यवाही करने के लिए एसडीएम को निर्देशित किया गया। दिशा पब्लिक स्कूल कक्षा दसवी में अध्ययनरत कुमारी सीमा नरेटी से स्कूल नहीं जाने का कारण पूछने पर उन्होंने अपने दांत में दर्द होने की जानकारी दी, जिस उनका ईलाज कराने के लिए जनपद सीईओ को निर्देश दिये गये।  


कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी एवं हिन्दी माध्यम स्कूल का भी निरीक्षण किया, अंग्रेजी माध्यम विद्यालय में 650 और हिन्दी माध्यम विद्यालय में 351 बच्चों ने दाखिला लिया है। कलेक्टर ने इस विद्यालय के विभिन्न कक्षाओं में विद्यार्थियों को पढ़ाकर उनकी गणितीय ज्ञान को परखा। उनके द्वारा जोड़ने एवं घटाने से संबंधित गणित के प्रश्न भी पूछे गये। परिसर में स्थित लाईब्रेरी एवं भौतिकी, रसायन एवं जीव विज्ञान के लेब्रेटरी का अवलोकन किया तथा विद्यालय के साफ-सफाई में विशेष ध्यान देने तथा शौचालय की प्रतिदिन दो से तीन बार सफाई करने के लिए निर्देशित किया गया। कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने जनपद कार्यालय, तहसील कार्यालय एवं अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कार्यालय का भी निरीक्षण किया तथा विभिन्न कक्षों में कर्मचारियों द्वारा संपादित की जा रही कार्यों की जानकारी ली। जनपद कार्यालय के निरीक्षण में राशन कार्ड एवं पेंशन से संबंधित आवेदनों की जानकारी ली गई तथा पेंशन प्रकरणों से संबंधित आवेदनों का एक महीने में भी निराकरण नहीं होने पर अप्रसन्नता व्यक्त किया गया। पेंशन योजना से लाभान्वित हितग्राहियों और पात्रता होने के बावजूद इस योजना से वंचित हितग्राहियों की जानकारी उपलब्ध कराने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया। तहसील कार्यालय परिसर की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश भी उनके द्वारा दिये गये। कलेक्टर ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अंतागढ़ का भी आकस्मिक निरीक्षण किया तथा अस्पताल के पुरूष एवं महिला वार्ड में भर्ती मरीजों से बातचीत की तथा मरीजों से अच्छा व्यवहार करने के लिए चिकित्सा स्टॉफ को निर्देश दिये। उन्होंने अस्पताल में उपलब्ध दवाईयों का अवलोकन किया। निरीक्षण के दौरान अपर कलेक्टर चन्द्रकांत वर्मा, डीएफओ पूर्व वनमण्डल भानुप्रतापपुर जाधव श्रीकृष्ण, एसडीएम के.एस. पैकरा, तहसीलदार विरेन्द्र नेताम, जनपद सीईओ पी.एस. साहू भी उपस्थित थे।

From Around the web