जिले के नागरिकों को स्वास्थ्य की अच्छी सेवा मिले : स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव

 
pic

उत्तर बस्तर कांकेर :  प्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा चिकित्सा शिक्षा मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने आज कांकेर में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं की समीक्षा करते हुए कांकेर में मेडिकल कॉलेज प्रारंभ होने के लिए बधाई दी और कहा कि यहां डॉक्टरों की टीम बहुत अच्छे ढंग से कार्य कर रही है। मेडिकल कॉलेज के डीन डॉक्टर एम.एल. गर्ग ने उन्हें जानकारी देते हुए बताया कि शासन द्वारा इस मेडिकल कॉलेज में पहले 100 सीट आबंटित की गई थी, जिसे बढ़ाकर 125 कर दिया गया है। मेडिकल कॉलेज में 123 विद्यार्थियों ने प्रवेश भी ले लिया है तथा तृतीय एवं चतुर्थ वर्ग के कर्मचारियों की भर्ती प्रक्रिया जारी है। उन्होंने बताया कि मेडिकल कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए जिला प्रशासन की सहयोग से छात्रावास की अच्छी व्यवस्था की गई है। चिकित्सकों के लिए भी आवासीय व्यवस्था उपलब्ध कराया गया है।

                   स्वास्थ्य कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए  टी.एस. सिंहदेव ने कहा कि जिले में कोरोना की पहचान हेतु टेस्टिंग बढ़ाया जावे, टीकाकरण में जो गैप है उसकी पूर्ति करने का प्रयास करें। जिन्होंने पहला डोज का टीका लगाया है और दूसरा डोज का टीका नहीं लगवाया है, उन्हें इसके लिए प्रेरित करें, को-मार्बिट व्यक्तियों को भी टीका लगाया जावे। चिकित्सा अधिकारियों को प्रोत्साहित करते हुए सिंहदेव ने कहा कि कोरोना के समय चुनौतीपूर्ण स्थिति में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारियों व डॉक्टरों ने अच्छा कार्य किया है, स्वास्थ्य विभाग का कोई भी अमला पीछे नहीं हटा। अधिकारियों को निर्देशित करते हुए उन्होंने कहा कि नागरिकों को स्वास्थ्य की अच्छी सेवा मिले, डॉक्टरों द्वारा जेनेरिक दवाई ही लिखा जावे।  


                 आकांक्षी जिला में स्वास्थ्य एवं पोषण से संबंधित सूचकांको में कांकेर जिला की प्रगति की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में कांकेर जिला का प्रदर्शन राज्य एवं राष्ट्रीय औसत से बेहतर रहा है, जिसके लिए स्वास्थ्य मंत्री द्वारा बधाई दी गई। मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान की समीक्षा के दौरान बताया गया कि कांकेर जिले का कांकेर, चारामा एवं नरहरपुर विकासखण्ड लगभग मलेरिया मुक्त हो चुका है। मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लीनिक योजना के क्रियान्वयन  की भी स्वास्थ्य मंत्री  सिंहदेव द्वारा समीक्षा किया गया, जिसमें बताया गया कि योजना प्रारंभ होने से लेकर अब तक कांकेर जिले में 02 लाख 17 हजार मरीजों का उपचार हाट बाजारों में किया जाकर लाभान्वित किया गया है। 01 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2022 तक की अवधि में जिले में 01 लाख 29 हजार 540 मरीजों का उपचार में किया गया है। इस उपलब्धि के लिए स्वास्थ्य मंत्री  सिंहदेव ने प्रशंसा करते हुए कहा कि हाट-बाजार क्लीनिक के लिए हाट-बाजारों में पंचायतों के सहयोग से शेड का निर्माण किया जावे।


                    इस अवसर पर जिला पंचायत के अध्यक्ष  हेमंत धु्रव, उपाध्यक्ष हेमनारायण गजबल्ला, गौ-सेवा आयोग के सदस्य  नरेन्द्र यादव, आयुक्त स्वास्थ्य सेवायें डॉ. सी.आर. प्रसंन्ना, जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष  सुभद्रा सलाम, पीयूष कोसरे, अपर कलेक्टर  एस.पी. वैद्य, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जे.एल. उईके, मेडिकल कॉलेज कांकेर के डीन डॉ. एम.एल गर्ग सहित सभी बीएमओ  एवं स्वास्थ्य विभाग अधिकारी मौजूद थे।

From Around the web