छत्तीसगढ़ ने दुनिया को बताया गोबर की कीमत

 
pic

रायपुर :  मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी लेने के लिए आम जनों के बीच पहुंच रहे हैं। विधानसभाओं के दौरे के क्रम में आज चौथे दिन मुख्यमंत्री भटगांव विधानसभा क्षेत्र के ग्राम लटोरी पहुंचे। यहां ग्रामीणों से भेंट-मुलाकात के लिए आयोजित जन चौपाल को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आपके बीच आपको सुनने आया हूं, शासन ने जो योजनाएं बनाई हैं, उसके क्रियान्वयन की जानकारी लेने आया हूं। ग्राम करवां से जन चौपाल में पहुंची जननू कुशवाहा ने मुख्यमंत्री को बताया कि गोधन न्याय योजना के माध्यम से गोबर बेचकर उनकी आय हो रही है और इससे पहले गोबर की कीमत कोई नहीं जानता था, छत्तीसगढ़  ने पूरी दुनिया को गोबर के महत्व बताया दिया है। देश के कई राज्यों में गोबर खरीदी प्रक्रिया शुरू हो रही है। 

जरूरतमंदों को फौरी मदद

मुख्यमंत्री ने भटगांव विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में लोगों की समस्याएं सुनी और समस्याओं का निराकरण भी किया। उन्होंने विश्वकर्मा समाज के मंगल भवन के लिए 10 लाख रूपए और ग्राम चंदरमेहड़ा के यश पाण्डेय को हृदय रोग के इलाज के लिए 50 हजार रूपए की मंजूरी दी।

महतारी दुलार से पढ़ाई हुई आसान-
 
जन चौपाल में सूरजपुर से आई छात्रा आँचल साहू ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हुए कहा कि महतारी दुलार योजना से ही उसकी पढ़ाई पूरी हो पा रही है और मैं अब अपने सपनों को साकार कर पाऊंगी। इसी प्रकार ग्रामीण धनेंद्र त्रिपाठी ने स्वामी आत्मानंद के नाम से स्कूल खोलने के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हुए कहा कि स्वामी जी ने शिक्षा के क्षेत्र में अतुलनीय योगदान दिया है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने स्वामी आत्मानंद के जीवन से जुड़े महत्वपूर्ण बातों को आमजनों के साथ साझा करते हुए कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में स्वामी आत्मानंद के योगदान को देखते हुए ही उनके नाम पर स्कूल खोलने का निर्णय लिया गया था। 

गौठान से बदल रही महिलाओं की जिन्दगी-

ग्राम करवां गौठान में काम कर रही इंदिरा स्व-सहायता समूह की सदस्य सीता जायसवाल ने मुख्यमंत्री को गौठान खोलने के लिए धन्यवाद दिया। सीता जायसवाल ने बताया कि गौठान में रोजगार से महिलाओं की जिंदगी बदली है और आज मैं गौठान से आजीविका प्राप्त कर तीन बच्चों का पालन पोषण कर पा रही हूँ। भेंट-मुलाकात के उपरांत महामाया स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने मुख्यमंत्री को बांस से बनी बैलगाड़ी भेंट की। साथ ही मुख्यमंत्री ने राजीव युवा मितान क्लब को पहली किश्त के रूप में 25 हज़ार रुपये का चेक भी प्रदान किया।

मुख्यमंत्री से परवीन बानो ने निवेदन किया उनकी ग्राम पलमा में उनकी जमीन पर उनके पिता ने कृषि ऋण लिया था, पिता के निधन पर अब हम लोन पटाने में असमर्थ है, मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने कृषि ऋण माफ कर दिया गया है। उन्होंने इस संबंध में अधिकारियों को इसकी जांच कराने के निर्देश दिए। जनपद उपाध्यक्ष नरेंद्र यादव ने सूरजपुर के ग्राम पचायत में सिलफिलि में कोल्ड स्टोरेज बनाने की मांग पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इसे बनवाने के निर्देश दिए। रोजगार दिलाने के नाम पर ठगी करने वाली गुरुकुल संस्था की महिलाओं की शिकायत पर मुख्यमंत्री ने जांच के निर्देश दिए।

From Around the web