कैबिनेट मंत्री अकबर ने ग्राम सिरमी में लाखों की लागत से बनी पुलिया का लोकार्पण किया

 
pic

कवर्धा :  राज्य शासन के वन, परिवहन, आवास, पर्यावरण तथा जलवायु परिवर्तन मंत्री तथा कवर्धा विधायक  मोहम्मद अकबर ने बोडला विकासखण्ड के सूदूर वनांचल ग्राम पंचायत महली के आश्रिम गांव सिरमी में 17 लाख 59 हजार रूपए की लागत से निर्मित पुलिया का लोकार्पण किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कृष्णा कुमार नामदेव ने की।  अकबर ने क्षेत्र के समस्याओं और क्षेत्र की जनता को शासन की योजनाओं और उन्हे सुविधाएं प्रदान करने के लिए गांव में जनसेवा कार्यालय का शुभांरभ किया। उन्होने कहा कि विधायक होने के नाते क्षेत्र का समूचित विकास और क्षेत्र के जनता की समस्याओं, मांगों को पूरा करने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। उन्होने कहा कि क्षेत्र जनसंपर्क के दौरान या सीधे संवाद के माध्यम से क्षेत्र की जनसमस्याओं से अवगत होने का अवसर भी मिल रहा है, उन सभी समस्याओं को प्राथमिकता में रखते हुए पूरा करने का भरपूर प्रयास भी किया जा रहा है। ग्राम के किसानों व ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम सिरमी में मंचीय कार्यक्रम करने वाले कैबिनेट मंत्री  अकबर पहले विधायक है, जिन्होंने पहली बार गांव पहुंचकर लोंगों की समस्याओं और मांगों के रूबरू हुए है। कार्यक्रम में क्रेड़ा आयोग सदस्य कन्हैया अग्रवाल, चोवा राम साहू,,  नीलकंठ साहू,  कृष्णा साहू, पीतांबर वर्मा, जिला सदस्य  मुखीराम मरकाम, नगर पंचायत पांडातराई अध्यक्ष  फिरोजखान, जनपद पंचायत बोड़ला उपाध्यक्ष  सनत जायसवाल,  आनंद सिंह,  मन्नू चंद्रवंशी, पुरन लाल नामदेव,  गोरेलाल चंद्रवंशी,  भीषण तिवारी, सूरज वर्मा, ग्राम सरपंच  राजकुमार धुर्वे,  राधेलाल जायसवाल, राजेंद्र साहू,  सालिकराम जायसवाल थे।


कैबिनेट मंत्री  अकबर ने कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार गांव-गरीब और किसानों को विशेष ध्यान में रखते हुए अलग-अलग योजनाएं न्याय योजनाएं बना रही है। किसानों के विकास के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजनाएं बनाई है। इस योजना के तहत प्रति एकड 9 हजार रूपए किसानों दी जा रही है। उन्होने कहा कि हमने 25 सौ रूपए में धान खरीदी करने को वादा किया था, लेकिन 9 हजार रूपए को जोड़ा जाएगा तो 2540 रूपए धान का समर्थम मूल्य निकला है। भूमिहिन मजदूरों के लिए राजीव गांधी भूमिहीन ग्रामीण कृषि मजदूर योजना बनाई है, इसके तहत मजदूरों को प्रतिवर्ष 6 हजार रूपए दिए जा रहे। इसकी पहली किस्त मजदूरों के खाते से सीधे भूगतान किया गया है। प्रदेश में बेहतर शिक्षा स्वामी आत्मानंद अग्रेजी माध्यम स्कुल खोला गया है। गोधन न्याया योजना के माध्यम से दो रूपए में गोबर की खरीदी की जा रही है। गांव गांव में राजीव गांधी युवा मितान क्लब का गठन किया जा रहा है, युवाओं को शासन-प्रशासन में जोड़ने का काम किया जा रहा है। राज्य सरकार 7 प्रकार के वनोपज को बढ़ाकर के 65 प्रकार कि वनोपज को समर्थन मूल्य पर खरीद रही है। तेन्दूपत्ता प्रतिमानक बोरा 25सौ रूपए से सीधा बढ़ाकर के 4 हजार रूपए किया गया है। उन्होने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार प्रदेश को विकास की नई उचाइयों पर ले जाने के लिए हर वर्गों के लिए योजनाएं बनाकर उनके विकास की दिशा में काम कर रही है।

From Around the web