कैबिनेट मंत्री अकबर ने सहसपुर लोहारा क्षेत्र के चार गांव को 70 लाख रुपए की सौगात दी

 
pic

कवर्धा :  प्रदेश के वन, परिवहन, आवास, पर्यावरण, विधि विधायी तथा जलवायु परिवर्तन मंत्री व कवर्धा विधायक मोहम्मद अकबर ने आज अपने कवर्धा निर्वाचन क्षेत्र के सहसपुर लोहारा जनपद के ग्राम खजरी कला- ग्राम पंचायत कल्याणपुर, केजेदाह, सिघनपुरी, बामी में विभिन्न नवीन कार्यो लगभग 70 लाख राशि के लोकापर्ण एवं भूमिपूजन किया।


 अकबर ने ग्राम खजरी में पटेल समाज के सामुदायिक भवन (6 लाख 50 हजार रुपए), ग्राम केजेदाह में खाद गोदाम में 10 लाख रुपए, तथा महिला समूह के आजीविका के लिए बनाए गए मुर्गी शेड का लोकार्पण किया। साथ ही नवीन स्कूल भवन 10 लाख रुपए तथा रिटर्निंग वॉल का भूमिपूजन किया। ग्राम बामी में सामुदायिक भवन ( 6 लाख 50 हजार रुपए) ,हाई स्कूल भवन 17 लाख रुपए के कार्यो का लोकापर्ण किया।  अकबर ने सिघनपुरीके 12 लाख राशि की सीसी पेबर ब्लाक सह कंक्रीट करण कार्य का शिलान्यास किया।


इस अवसर पर नीलकंठ चंद्रवंशी, जिला पंचायत उपाध्यक्ष प्रतिनिधि  होरी लाल साहू, राज्य कृषक कल्याण मंडल के सदस्य  भगवान सिंह पटेल, रामचरण पटेल, जनपद अध्यक्ष  लीला धनुष वर्मा, मनु शरद बांगली, सौखि साहू, जमालुद्दीन खान, चोवा राम साहू, भरत वर्मा, लक्ष्मण धुर्वे, श्याम लाल साहू, सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।


 कैबिनेट मंत्री अकबर ने खजरी कला, ग्राम पंचायत कल्याणपुर, केजेदाह, बामी में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि इन गांवों में मेरा बरसो पुराना नाता है। इस क्षेत्र से मुझे हमेशा अपना पन का अहसास होता है। उन्होंने इस क्षेत्र के पुराने गणमान्य नागरिक तथा वरिष्ठ जनों को याद करते हुए कहा कि, इस क्षेत्र के समुचित विकास के किए सभी सदैव चिंतित रहते है। उन्होंने कहा कि अब एक विधायक होने के नाते क्षेत्र का विकास और लोगों की समस्याओं का समाधान हमारी प्राथमिकता में शामिल है। जब कि क्षेत्र के जनसंपर्क तथा संवाद के माध्यम से मांग, अथवा अन्य संज्ञान में लाई जाएगी, उन्हें पूरा करने का सदैव प्रयास करते रहेंगे।


अकबर ने कहा, आपने हम पर भरोसा किया, और हम अपने वायदे को एक-एक कर पूरी ईमानदारी से कर रहे है। उन्होंने कहा है कि हमने सरकार बनाने से पहले जनता से जो वायदा किए थे। उन सभी वादों को प्राथमिकता में रखते हुए पूरा कर रहे है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार किसानों के अल्पकालीन ऋण माफ किया गया। जिले के 75 हजार 450 किसानों का 455 करोड़ 65 लाख रूपए ऋण माफी स्वीकृत किया गया है। प्रदेश के 65 लाख परिवारों के लिए राशन कार्ड बना कर दिया। आने वाले इस तीन वर्षों में समय के साथ परिवार का विभाजन हो रहा है, अब फिर से उन परिवारों द्वारा नया राशन कार्ड अथवा वर्तमान राशन कार्ड का विभाजन करने की समस्या संज्ञान में लाई गई। राज्य सरकार ने ऐसे सभी परिवारों को अब राशन कार्ड बना कर दे रहे है। किसानों के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजना बनाकर 2500 रूपए में धान खरीदी की जा रही है। जिले के 1 लाख 19 हजार 435 किसानों को राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत पहली किस्त 76 करोड़ 94 लाख 22 हजार 851 रूपए इनके खातों में भुगतान किया गया है। इसके तहत किसानों को 9 हजार रुपए प्रति एकड़ राशि दी जा रही। अगर इस राशि को जोड़ा जाएगा तो किसानों को 2540 रुपए प्रति क्विंटल धान की कीमत मिल रही है।


प्रदेश के भूमिहीन श्रमिकों के आर्थिक विकास के लिए राजीव गांधी भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना बनाई गई है। इस योजना के तहत जिले के 17 हजार 839 भूमिहीन श्रमिक मजदूरों के बैंक खातों में 3 करोड़ 56 लाख रूपए राशि का भुगतान किया गया है। गौ पालको, किसानों और नागरिकों के आय को बढ़ाने के लिए गौधन न्याय योजना बनाई गई है। जिले के सैकड़ो गोबर विक्रेता के खाते में 7 लाख 16 हजार रूपए की राशि उन्हें भुगतान किया गया है। राज्य सरकार द्वारा वनोपज संग्रहण से जुड़े प्रदेश के लाखों परिवारों के विकास के लिए 7 प्रकार के वनोपज बढ़ाकर 65 प्रकार की वनोपज की खरीदी की जा रही है। तेंदूपत्ता प्रतिमानक बोरा 2500 से बढ़ाकर 4000 रूपए किया गया है। राज्य के युवा पीढ़ी को निःशुल्क अंग्रेजी माध्यम शिक्षा देने के लिए स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोले जा रहे है। जिले के सभी विकासखंड मुख्यालयों में स्वामी आत्मानंद स्कूलों में पढ़ाई भी शुरू हो गई है। इससे जिले के सैकड़ों बच्चों को बेहतर शिक्षा मिल रही है। उनके अभिभावकों को निजी स्कूल में होने वाली अतिरिक्त खर्चे के बोझ से मुक्ति भी मिल रही है। मुख्यमंत्री द्वारा इस योजना को और विस्तार देने की योजना भी बनाई जा रही है। राज्य सरकार द्वारा सभी वर्गो के हितों और उनके कल्याण को ध्यान में रखते हुए योजना बनाकर उसके आर्थिक विकास के दिशा में अनेक योजनाएं बनाकर लाभ पहुंचाया जा रहा है। प्रदेश में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के लिए मुख्यमंत्री शहरी स्लम योजना बनाई गई है। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान चलाकर सुपोषण से मुक्ति के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे है। प्रदेश के युवाओ के लिए गांव-गांव में राजीव युवा मितान क्लब बनाकर युवाओं को शासन और प्रशासन से जोड़ा जा रहा है।  धनवंतरी मेडिकल खोलकर सस्ती दवाई उपलब्ध कराई जा रही है। हॉट बाजारों के माध्यम से बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने के लिए मुख्यमंत्री हॉट बाजर क्लीनिक योजना बनाई गई है। उन्होंने कहा है कि शासन के विभिन्न योजनाओं के अलावा भी क्षेत्र भ्रमण के दौरान लोगों की मांगों और समस्याओं से रूबरू होकर उनके समस्याओं का समाधान करने का प्रयास भी कर रहे है

From Around the web