शिक्षा का दान सबसे बड़ा दान : मंत्री सिंधिया

 
pic

भोपाल :  तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा है कि शिक्षा का दान सबसे बड़ा दान होता है। एक व्यक्ति को अपने सपने साकार करने में मुश्किलों और चुनौतियों का सामना करना पड़ता है, लेकिन जो व्यक्ति दूसरों के सपनों को साकार करने में अपना सर्वस्व देता है, वह गुरू की श्रेणी में आता है। मंत्री  सिंधिया शुक्रवार को जेहनुमा होटल में राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय और अखिल भारतीय शैक्षणिक संस्था सितारे फाउंडेशन के कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं।

मंत्री  सिंधिया ने कहा कि सितारे फाउंडेशन के संस्थापक  अमित सिंघल, वंचित वर्ग के प्रतिभाशाली बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा उपलब्ध करा रहे हैं। यह बहुत सराहनीय पहल है। उन्होंने कहा कि संस्था द्वारा भोपाल में सितारे यूनिवर्सिटी स्थापित की जा रही है। इसका उद्देश्य देश के प्रतिभाशाली बच्चों को कम्प्यूटर साइंस स्नातक की विश्वस्तरीय शिक्षा देना है। मंत्री  सिंधिया ने बच्चों से कहा कि यह एक बड़ा अवसर है, इसे हाथ से न जाने दें। अपने जीवन के इस बदलाव को सहर्ष स्वीकारें।

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि सितारे फाउंडेशन संस्था द्वारा लिया गया यह निर्णय कम्प्यूटर साइंस पेशेवरों की माँग और आपूर्ति का अंतर पाटने में महत्वपूर्ण साबित होगा। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है, जहाँ राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू की गई है। सितारे यूनिवर्सिटी की स्थापना से प्रतिभावान विद्यार्थियों को न सिर्फ आधुनिक तकनीकों का अध्ययन करने का मौका मिलेगा, बल्कि वे भविष्य में प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में भी नेतृत्व कर सकेंगे।

सितारे फाउंडेशन के संस्थापक अमित सिंघल ने कहा कि विश्व में उच्च गुणवत्ता के कम्प्यूटर वैज्ञानिकों की भारी कमी है, भारत में ऐसे प्रतिभावान बच्चों की बड़ी संख्या है, जो वंचित वर्ग से आते हैं और संसाधनों की कमी की वजह से अपनी संभावनाओं का पूर्ण दोहन नहीं कर पाते हैं। उन्होंने कहा कि सितारे यूनिवर्सिटी की स्थापना का उद्देश्य वंचित वर्ग से आने वाले प्रतिभावान विद्यार्थियों को कम्प्यूटर साइंस की विश्व स्तरीय शिक्षा नि:शुल्क उपलब्ध करा कर हर साल एक हजार कम्प्यूटर साइंस स्नातक तैयार करना है।  सिंघल ने बताया कि यूनिवर्सिटी 4 वर्षीय बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी इन कम्प्यूटर साइंस पाठ्यक्रम की पेशकश करेगी, जिसमें 5 क्षेत्र एआई, सिस्टम्स, ह्यूमन कम्प्यूटर इंटरेक्शन, ब्लॉक चैन टेक्नोलॉजी और कंप्यूटर सिक्योरिटी जैसे नए पाठ्यक्रमों शामिल हैं।

राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कुलपति  सुनील कुमार गुप्ता ने बताया कि सितारे यूनिवर्सिटी मौजूदा अकादमी वर्ष में आरजीपीवी के परिसर में परिचालन शुरू करेगी। इस संबंध में सहमति-पत्र पर हस्ताक्षर किया गया है। अधो-संरचनात्मक सुविधाएँ आरजीपीवी द्वारा उपलब्ध करायी जाएंगी। पाठ्यक्रम, अकादमिक और फैकल्टी सितारे फाउंडेशन द्वारा उपलब्ध कराया जायेगा।

From Around the web