प्रदेश में टायर जलाने के नहीं लगेंगे नये प्लांट

 
pic

भोपाल : पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग ने कहा कि प्रदेश में टायर जलाने के नये प्लांट को अब अनुमति नहीं दी जायेगी। इससे प्रदूषण में रोकथाम होगी। अभी प्रदेश की जिन सीमेंट फेक्ट्री में उच्च तापमान के कारण प्रदूषण नगण्य है। वे इसे जारी रख सकते हैं। मंत्री  डंग ने यह बात आज पर्यावरण विभाग और मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की गतिविधियों की समीक्षा करते हुए कही। कार्यपालन संचालक एप्को  श्रीमन शुक्ला, सदस्य सचिव प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ए. मिश्रा और वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

शिवना नदी में नहीं मिलेगा सीवेज का पानी

मंत्री  डंग ने बताया कि मंदसौर जिले की शिवना नदी के पर्यावरण प्रबंधन के लिये केन्द्र शासन से प्रथम किश्त के रूप में 30 करोड़ रूपये की स्वीकृति मिली है। अभी शहर के सीवेज का गंदा पानी शिवना में जाने से नदी प्रदूषित हो रही है। स्वीकृत राशि से 8 किलोमीटर का ड्रेन सिस्टम निर्मित कर सीवेज को शहर के बाहर ऑक्सीनेटेड तालाब में प्रवाहित किया जाएगा। वर्षा का सम्पूर्ण जल नदी में यथावत मिलता रहेगा।

पेड़ काटने के बदले कितने पेड़ लगाये, जानकारी लें

मंत्री  डंग ने कहा कि कई जगह पर अस्पताल, स्कूल या अन्य अति आवश्यक निर्माण होने से पेड़ों की कटाई होती है। उन्होंने विभागीय अधिकारियों से कहा कि ऐसे स्थलों की जानकारी प्राप्त करें कि उन्होंने बदले में कहाँ पर और कितने पेड़ लगाये हैं। साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि उन पेड़-पौधों की देखभाल अच्छी तरह हो रही है या नहीं।

मंत्री  डंग ने वेटलैंड, सिया, सियाक, ग्लोबल वॉर्मिंग, जलवायु संतुलन और अपशिष्ट प्रबंधन आदि अन्य विषयों पर किए जा रहे कार्यों की भी जानकारी ली।

From Around the web