जन-कल्याणकारी योजनाओं में जन-प्रतिनिधि और शासकीय अधिकारी-कर्मचारी समर्पण और प्रतिबद्धिता से जुड़ें: CM चौहान

 
chohan

भोपाल : मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जन-कल्याणकारी योजनाओं और विकास गतिविधियों के क्रियान्वयन में जन-प्रतिनिधि और शासकीय अधिकारी-कर्मचारी समर्पण और प्रतिबद्धिता के साथ जुड़ें। यह सुनिश्चित किया जाए कि कार्यों में विलम्ब न हो। गरीबी और पलायन अलीराजपुर जिले की मुख्य समस्याएँ हैं। राज्य शासन द्वारा जनता का जीवन-स्तर सुधारने के लिए आवश्यक सभी पक्षों से जुड़ी योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इसमें जनता की भागीदारी को जोड़ कर योजनाओं को अधिक परिणाममूलक बनाया जा सकता है। स्कूल चलें अभियान को जन-अभियान बनाना आवश्यक है। जो योजनाएँ और विकास गतिविधियाँ पहले से संचालित हो रही हैं, वे आदर्श आचार संहिता से प्रभावित नहीं होंगी। इनका निरंतर प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए। आकांक्षी विकासखंडों में बेहतर कार्य के लिए विभिन्न सूचकांकों के आधार पर जिले में विकासखंडों की रैंकिंग की व्यवस्था की जाए। मुख्यमंत्री  चौहान प्रात: 6:30 पर निवास कार्यालय से अलीराजपुर जिले की वर्चुअली समीक्षा कर रहे थे। अलीराजपुर जिले के प्रभारी और औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन मंत्री  राजवर्धन सिंह दत्तीगांव, कलेक्टरराघवेन्द्र सिंह तथा जिले के समस्त अधिकारी अलीराजपुर से बैठक में वर्चुअली सम्मिलित हुए।

मुख्यमंत्री चौहान ने अलीराजपुर के 5 कन्या शिक्षा परिसर के निर्माण में हुए विलम्ब पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि वर्ष 2016 में स्वीकृत कार्य वर्ष 2022 तक पूर्ण न होना कष्टप्रद है। मुख्यमंत्री  चौहान ने तत्काल प्रमुख सचिव लोक निर्माण  नीरज मंडलोई को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जोड़ने के निर्देश दिए तथा संबंधित ठेकेदार को ब्लेक लिस्ट करने और संबंधित अधिकारियों के विरूद्ध कार्रवाई के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री  चौहान ने वन विभाग की स्वीकृति नहीं मिलने से तीन सड़क के लम्बित निर्माण पर आपत्ति दर्ज की। उन्होंने कहा कि जिला-स्तर पर निर्माण एजेंसियों तथा अन्य संबंधित विभागों के बीच बेहतर समन्वय सुनिश्चित किया जाए। हम 21वीं सदी में रह रहे हैं, निर्माण एजेंसियाँ इसके अनुरूप कार्य करें। कार्य लम्बित होने से लागत बढ़ती है और जन-सामान्य को लम्बे समय तक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। मुख्यमंत्री  चौहान ने आकांक्षी विकासखंड उदयगढ़ और सोंडवा में सुधार की आवश्यकता बताई।

मुख्यमंत्री  चौहान ने सीएम हेल्पलाइन में 84.17 के स्कोर और आवास प्लस योजना में 89 प्रतिशत आवासों की स्वीकृति जारी कर प्रदेश में प्रथम स्थान पर रहने के लिए जिला प्रशासन को बधाई दी। मुख्यमंत्री चौहान ने जिले के गौरव दिवस पर लाड़ली लक्ष्मी क्रिकेट प्रीमियम लीग मैच के आयोजन की भी प्रशंसा की। जानकारी दी गई कि जिले में विकासखंड स्तर पर लाड़ली लक्ष्मियों के क्रिकेट मैच कराये गये। विजेता टीमों का क्रिकेट मैच जिला मुख्यालय पर रात्रि में फ्लड लाइट में हुआ, जिसमें विजेता टीम को 17 हजार रूपये और उप विजेता टीम को 13 हजार रूपये का पुरस्कार दिया गया।

मुख्यमंत्री  चौहान ने जिले में हुए नवाचारों, आकांक्षी विकासखंडों में संचालित गतिविधियों, राशन आपके द्वार, उज्ज्वला योजना, सिकलसेल एनीमिया के उपचार और नियंत्रण के लिए संचालित गतिविधियों, स्वास्थ्य व्यवस्था, स्कूल शिक्षा, पेयजल आपूर्ति, आँगनवाड़ियों के संचालन, ग्रामीण आवास, अमृत सरोवर, आयुष्मान भारत योजना, गौरव दिवस के आयोजन और कानून-व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा की।

अलीराजपुर जिले के प्रमुख बिन्दु

  • अलीराजपुर में नवाचार में बयरा ब्रांड को प्रोत्साहित किया जा रहा है। महिलाओं के 29 स्व-सहायता समूहों द्वारा निर्मित हस्तकला और खाद्य सामग्री से जुड़े 31 उत्पादों के मार्केट लिंकेज की व्यवस्था की गई है।
  • प्रसिद्ध कड़कनाथ मुर्गे, महुआ कुकीज, एनर्जी बार, रॉक हनी और धूप में सूखी सब्जियों की मार्केटिंग भी की जा रही है। निवेशकों से संपर्क किया जा रहा है।
  • राशन आपके द्वार योजना में 24 वाहनों से 244 गाँवों में राशन पहुँचाया जा रहा है।
  • उज्ज्वला योजना में 10 हजार महिलाओं को गैस कनेक्शन दिए गए हैं।
  • सिकलसेल एनीमिया के मरीजों की पहचान के लिए सघन अभियान जारी है।
  • मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिए कि शिक्षकों को दायित्व निर्वहन के लिए प्रेरित करें, इसके बाद भी यदि वे अपनी ड्यूटी अनुशासित तरीके से नहीं करते हैं तो उनकी सेवाएँ समाप्त की जाएँ।
  • स्कूल चले अभियान में बच्चों को स्कूल जाने के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से गाँवों में “संध्या चौपाल” का आयोजन किया जा रहा है।
  • अलीराजपुर, भाभरा और जोबट में एक दिन छोड़ कर पेयजल प्रदाय किया जा रहा है।
  • मुख्यमंत्री  चौहान ने पेयजल की समस्या से जूझ रहे गाँवों के नाम बताकर समस्या का कारण पूछा। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि जहाँ-जहाँ पानी है वहाँ प्रतिदिन पेयजल की आपूर्ति की जाए।
  • आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को बच्चों की ग्रोथ मॉनिटरिंग के लिए विशेष प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
  • जिले में 104 अमृत सरोवर का निर्माण होना है। इनमें से 34 का कार्य 75 प्रतिशत पूर्ण हो गया है। मुख्यमंत्री चौहान ने अमृत सरोवर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा के अनुरूप राष्ट्र भक्ति और सांस्कृतिक गौरव के रूप में विकसित करने के निर्देश दिए।
  • बताया गया कि अलीराजपुर में 21 डॉक्टर उपलब्ध हैं। सीटी स्केन आरंभ हो गया है। सोनोलॉजिस्ट और सर्जन की सेवाएँ भी उपलब्ध हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि जिले में 85 प्रतिशत संस्थागत प्रसव होते हैं। इसे शत-प्रतिशत करने का लक्ष्य रखा जाए।
  • माइक्रो लिफ्ट इरीगेशन के कार्य समय-सीमा में और गुणवत्तापूर्ण तरीके से सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए गए।
  • भू-माफिया से एक करोड़ 39 लाख रूपये की भूमि मुक्त कराई गई है। अवैध खनन के प्रकरणों में 81 लाख रुपये का अर्थदंड किया गया है।
  • बताया गया कि इस वर्ष भगौरिया में अशोभनीय कृत्य करने वाले 4 लोगों पर रासुका लगाई गई।
  • मुख्यमंत्री चौहान ने सड़क दुर्घटनाएँ रोकने के लिए विशेष पहल करने की आवश्यकता बताई।

From Around the web